हैंडराइटिंग कैसे सुधारें? हैंडराइटिंग सुधारने के 7 वैज्ञानिक तरीके।

Last Updated on नवम्बर 7, 2022 by Madan Jha

हैंडराइटिंग कैसे सुधारें (Handwriting Kaise Sudhare)

 सुंदर लिखावट ऐसा लिखावट हैं जिसे लोग मन से पढ़ता है या जिससे पढ़ कर और देख कर मन खुश हो जाए। सुंदर Handwriting की सभी को आवश्यकता पड़ती है चाहे आप पढ़ने वाले विद्यार्थी हो या आप जॉब करने वाले बाबू या अधिकारी।

 

अमेरिका के महान राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन ने अपनी जीवनी में लिखा है कि मुझे जीवन भर अच्छी Handwriting ना लिखने का अफसोस रहेगा।

वैसे तो सुंदर Handwriting सभी के लिए आवश्यक हैं लेकिन सबसे ज्यादा आवश्यक विद्यार्थियों के लिए  है।   चाहे वह विद्यार्थी पांचवी क्लास का हो या 15वीं क्लास का।

 

 

सुंदर हैंडराइटिंग का महत्व

कहा जाता है Handwriting बोलता है। आप सोच रहे होंगे कि Handwriting कैसे बोलता है? इसका जवाब है यदि आप दसवीं और बारहवीं का बोर्ड परीक्षा देते हैं तो आप की कॉपी जांच के लिए सीबीएसई मुख्यालय या संबंधित राज्य बोर्ड के मुख्यालय जाता है।

उस जगह उस शिक्षक को आपके बारे में कुछ पता नहीं है कि आप क्लास में टॉपर हैं या मॉनिटर है या आप क्या है? वहां पर आपका सुंदर Handwriting ही आपके बारे में बताता है कि आप कितने इंटेलिजेंट हैं। आपके अंदर में क्या टैलेंट है।

 

दूसरी बात शिक्षक जो कॉपी चेक करता है वह भी एक इंसान है कोई कंप्यूटर नहीं। जिस प्रकार हम और आप अच्छा चीज देखकर प्रसन्न हो जाते हैं ठीक उसी प्रकार शिक्षक भी अच्छी Handwriting देखकर खुश होते हैं।

 

यदि हमें टीचर को खुश करके परीक्षा में अच्छा नंबर लाना है तो हमें पढ़ने में मन लगाने के साथ-साथ अपने लिखावट में भी सुधार करना होगा। प्रत्येक दिन लिखनेे का एक Time Table बना ले।

 

सुंदर हैंडराइटिंग की आवश्यकता

सुंदर Handwriting की आवश्यकता हम सभी को हैं। आपकी राइटिंग खराब हो या ठीक हो सभी को सुधार करने चाहिए। यदि आपकी हैंडराइटिंग खराब है तो उसमें सुधार करके उसे अच्छा करें।

यदि आपकी Handwriting ठीक हैै तो  उसे और अच्छा करने का प्रयास करें। क्योंकि आपकी Handwriting जीतना अच्छा  होगा उतना ही आपके लिए लाभदायक होगा।

 

लिखावट सुधारने के संबंधित कुछ सवालों के जवाब

हैंडराइटिंग कैसे सुधारें (Handwriting Kaise Sudhare) यह सवाल जितने व्यक्ति से पूछों अलग-अलग जवाब मिलेगा। कोई बताएगा प्रतिदिन 15-20 पेज लिखो, कोई बताएगा महंगे वाले पेन का यूज करो।

 

कोई सलाह देगा दो अंगूली से पेन पकड़ो तो कोई बोलेगा चार अंगूली से पेन पकड़ो। पेन को ऐसे पकड़ो कि 90 डिग्री का कोण बनें आदि-आदि।

 

सभी का अपना अपना  स्वभाव है और उसी के अनुसाार सलाह भी देते हैं।   उसे हम बदल नहीं सकते। लेकिन यह सभी सुझाव साइंटिफिक नहीं है। उपरोक्त सभी सवालों का मैं जवाब दे रहा हूं।

 

पहला जवाब प्रतिदिन 10-20 पेज लिखने से क्या होगा? यह कोई तीरंदाजी प्रतियोगिता का अभ्यास नहीं है कि रोज 15-20 तीर चलाओ 1-2 जरूर लक्ष्य भेद करेगा। यह Handwriting हैं, भले ही आप कितना पेज लिखो। यदि आप Handwriting में सुधार नहीं करोगे तो सुधार नहीं होगा।

 

दूसरा सुझाव महंगे पेन को यूज करों। यदि महंगे पेन से सुंदर Handwriting हो जाते हैं तो सभी अमीर लोगों के बच्चे सुंदर हैंडराइटिंग लिख पाते,  लेकिन ऐसा नहीं हैै। आपकी हैंडराइटिंग अच्छी हैं तो आप ₹5 वाले पेन से भी अच्छा राइटिंग लिख सकते हो।

 

दो/तीन/चार उंगली से पेन पकड़ो। यदि आप यह लेख पढ़ रहे हैं जरूर आप आठवीं से ऊपर क्लास में पढ़ रहे होंगे। यदि आप 8-10 सालों से दो उंगली से पेन पकड़ रहे हैं और मैं आपको बताऊं तीन उंगली से पकड़ो या चार से पकड़ो आपसे होना मुश्किल है।

 

आप अपना पकड़ने का स्टाइल चेंज नहीं कर सकते। इसलिए उपरोक्त बातें विशेष मायने नहीं रखता। आप चिंता न करें। मेेेरा  वैज्ञानिक सलाह है इसेे जरूर याद कर लो।

 

हैंडराइटिंग सुधारने का 7 वैज्ञानिक तरीके – Handwriting Sudhare Ka 7 Scientific Tarike

मैं आपको कुछ उपाय बता रहा हूं जो Scientific है। जिससे आपकी Handwriting में जरूर सुधार होगा। चाहे हिंदी या इंग्लिश जो भी आप लिखते होंगे उसमें जरूर यह नियमों का पालन करें। यह तरीका निम्नलिखित है-

1. ठीक से बैठ कर लिखना

आपकी राइटिंग टॉप की है, पूरे स्कूल में आप Handwriting का खिताब जीत चुके हैं। आप मुझे सीधा लेटकर लिखकर बताएं या एक पांव पर खड़े होकर लिखकर बताएं। वैसा Handwriting बिल्कुल नहीं लिख सकते हैं जैसा आप ठीक से बैठ कर लिखते हैं।

 इसलिए आप जब भी लिखने बैठे कुर्सी-टेबल या स्टडी टेबल का प्रयोग करें। इस प्रकार बैठे कि यदि आपको 2-3 घंटे तक लगातार बैठना पड़े तो कोई परेशानी नहीं होगी। इस प्रकार से बैठ कर लिखने में आपकी Handwriting जरूर रहोगे।

 

2. पेन पर जोर देकर ना लिखें

 कई विद्यार्थी इस प्रकार लिखते हैं कि पीछे के तीन-चार पेज में उसका निशान बन जाता है। इस प्रकार लिखने से आप बहुत जल्दी थक जाओगे एवं आपको लिखावट भी अच्छा नहीं होगा।

इस प्रकार आपको लिखते समय ना पेन को जोर से पकड़े और ना ही पेन को जोर से दवाएं। पेन को हल्के हाथों से पकड़े एवं हल्का दबाकर लिखें। इससे आप  देर तक सुंदर Handwriting लिख सकते हैं।

 

3. लिखने की स्पीड को कम करें

यदि आपको Handwriting में सुधार करनी है तो आप अपने लिखने की स्पीड को थोड़ा कम करें। अभी आप जितना देर में तीन पेज लिखते हैं उतना देेेर में दो पेज लिखे। इससे आपकी Handwriting में जरूर सुधार होगी।

जब आपकी Handwriting में सुधार हो जाएगी तब आप अपनी स्पीड धीरे-धीरे बढ़ा सकते हैं।

 

4. केवल पंजा नहीं पूरा बाजू को move करें

कई विद्यार्थी ऐसे लिखते हैं जैसे उसका केवल पंजा move हो रहा है पिछला भाग बिल्कुल स्थिर बना रहता  हैै। जिससे उसे एक-दो पेज लिखने में ही हाथों में दर्द होने लगता है क्योंकि ब्लड सरकुलेशन पूरे हाथ में ठीक से नहीं हो पाता।

इसलिए आप लिखते वक्त पूरे बाजू को move करें। इससे आप  Handwriting सुधार कर सकते हैं।

 

5. दो शब्दों के बीच गैप सामान रखें

यह बहुत महत्वपूर्ण हैं। आप जब भी लिखें चाहे हिंदी  या अंग्रेजी में दो शब्दों के बीच गैप एक समान रखें। यह नहीं कि कहीं कम और कहीं ज्यादा और कहीं बिल्कुल नहीं गैप रखें।

 कई बार दो शब्दों के बीच गैप ना होने से शब्द का अर्थ ही बदल जाता है। इसलिए आप अपने अंतिम उंगली की मोटाई के बराबर दो शब्दों के बीच गैप रखें। Handwriting अच्छा दिखाई देगा।

 

6. लिखते समय पेज की सफाई पर विशेष ध्यान दें

कई विद्यार्थी एक पैराग्राफ लिखता है  उसमें से 5 शब्द को काट देता है या ओवरराइटिंग कर देता है जो देखने में बहुत गंदा मालूम पड़ता है।

पूरे पेज पर यदि आप चार पांच जगह कट मार्क कर दिया तो फिर आप कितना भी अच्छा लिखे यह गलत इंप्रेशन जाता है। इसलिए आप पेज सफाई पर ध्यान दें तो आपकी Handwriting अच्छी हो जाएगी।

 

7. लिखने में पेंसिल का उपयोग ज्यादा करें

भले ही किसी भी क्लास में क्यों न हो यदि आपको राइटिंग में सुधार करना है तो प्रतिदिन एक दो पेज पेंसिल से जरूर लिखेंं। आज के समय में जितने भी अच्छे स्कूल हैं उसमें क्लास 5 तक के बच्चे केवल पेंसिल से लिखते हैं।

क्योंकि अच्छी  Handwriting लिखने  का यह एक  वैज्ञानिक  तरीका है। पेंसिल से लिखने वक्त उतना फास्ट हम नहीं लिख सकते जितना कि बॉल पेन या जेल पेन से लिखने वक्त।

 

हिंदी राइटिंग कैसे सुधारे? Hindi Writing Kaise Sudhare

 
उपरोक्त पांच बातों के अलावा हिंदी Handwriting में सुधार करने के कुछ आवश्यक बातों पर ध्यान रखें तो आपका हिंदी राइटिंग अच्छा हो सकता है जैसे-

1. जितना हो सके शब्दों को गोल लिखने का प्रयास करें।

 

2. हिंदी भाषा में मात्रा ही शब्दों को सुंदर बनाती हैं इसलिए मात्रा पर विशेष ध्यान दें।

 

3. दो लाइन वाली हिंदी कॉपी पर लिखने का अभ्यास करें।

 

4. ज्यादा महंगी नहीं तो ज्यादा सस्ती भी पेपर का प्रयोग ना करें।

 

5. पेंसिल एवं जेलपेन का प्रयोग ज्यादा करें। बॉल पेन का प्रयोग बहुत ही कम करें।

इंग्लिश राइटिंग कैसे सुधारे? English Writing Kaise Sudhare

हिंदी की तरह यदि आप English Writing  में भी सुधार करना चाहते हैं तो कुछ बातों पर ध्यान दें जैसे-

 

1. आप तीन लाइन वाली कॉपी में प्रतिदिन दो-तीन पेज़ जरूर लिखें। आप अपनी उम्र एवं क्लास ना देखें। केवल 10-15 दिन इस कॉपी पर लिख कर देखें। जरूर आपको अंतर नजर आएगा।

 

2. Cursive Handwriting के बारे में आप जरूर जानते होंगे। इसमें शब्दों को जोड़कर लिखा जाता है। आज समय में इसी का ज्यादा प्रयोग होता है। इसलिए आप Cursive राइटिंग का प्रयोग ज्यादा से ज्यादा करें।

 

3. शब्दों की साइज छोटा बड़ा ना करें। हिंदी भाषा की तरह अंग्रेजी भाषा में मात्रा का प्रयोग नहीं किया जाता है। इसमें Capital और Small alphabet पर विशेष ध्यान दें।

 

4. हिंदी कॉपी में जब भी आप English Writing  लिखे तो नीचे वाली लाइन में सटाकर लिखे।

 

5. हमेशा शब्दों को गोलाकार लिखने का प्रयास करें।

 

संक्षेप में

इस प्रकार मैंने सुंदर लिखावट लिखने की सभी विधि समझाने का पूरा प्रयास किया हूं। हिंदी राइटिंग हो या इंग्लिश राइटिंग सभी के बारे में विस्तार से आपको बताया हूं।

लेकिन सब कुछ आप पर निर्भर करता है। यदि आप वास्तव में चाहते हैं कि आपकी लिखावट में सुधार हो, आपकी राइटिंग देखकर लोग आपकी तारीफ करें, तो आपको कुछ प्रयास करना पड़ेगे।

ज्यादा प्रयास कि आवश्यकता नहीं है बस 1 से 2 महीने आप उपरोक्त दिए गए सुझाव पर अमल करेंगे तो आपकी राइटिंग बहुत अच्छे हो जाएगी। यह मेरा आपसे वादा रहा।

आपके मन में कोई सवाल हो तो गूगल में जाकर स्टेशन गुरुजी लिखे और उसके आगे का सवाल लिखते हैं आपको उसका जवाब मिल जाएगा। यदि और कोई मन में सवाल हो तो हमें आप ईमेल भेज सकते हैं मेरा ईमेल आईडी है [email protected]

धन्यवाद।

153 KB

Author

  • Madan Jha

    Hello friends, मेरा नाम मदन झा है। मैं LNMU Darbhanga से B.Com (Hons) एवं कोटा विश्वविद्यालय राजस्थान से M.Com हूं। मेरे इस वेबसाइट का नाम स्टेशन गुरुजी www.stationguruji.com हैं। मैं रेलवे विभागीय परीक्षा (Railway LDCE Exam), बच्चों के पढ़ाई लिखाई, नौजवानों के लिए मोटिवेशनल कहानी एवं निवेश, स्टॉक मार्केट संबंधी वित्तीय एवं ज्ञानवर्धक जानकारी शेयर करता रहता हूं।( नोट - उपर में Download बटन लगा है। Download करने के लिए पेज़ पर सबसे नीचे View Non-AMP version पर क्लिक करें। फिर नए पेज़ पर Download बटन पर क्लिक करके इसे Download कर सकते हैं।)

Leave a Comment