सपने को साकार कैसे करें। सपने को सच करने के 11 तरीके।

Last Updated on अक्टूबर 13, 2022 by Madan Jha

सपने को साकार कैसे करें

सपने आपके हैं तो पूरा भी आप ही करोगे

ना ही हालात आपके अनुसार होंगे और ना ही लोग

हम सभी का कुछ ना कुछ सपना जरूर होता है। लेकिन सभी अपना सपना पूरा नहीं कर पाते। क्योंकि यदि सपने सच हो जाए फिर क्या कहना।

सपने वह नहीं है जो हम सो कर देखते हैं,

सपने वह होते हैं जो हमें सोने नहीं देता।

जी हां दोस्तों मैं आज उसी सपने के बारे में बात करूंगा जो आपको सोने नहीं देता है। मैं कई बार नींद में सपना देखता हूं कि एक गुफा में गया और मुझे वहां एक सोने की खान मिल गया।

मैं देखता हूं रातों में अक्सर कि  पैदल जा रहा हूं ऊपर से एक बैग गिरा जिसमें करोड़ों रुपया था मुझे मिला। मैं अक्सर देखता हूं कि मेरी शादी एक राजकुमारी से हो गई है और मैं बहुत बड़ा आदमी बन गया हूं।

अगर आप भी इस तरह के फालतू सपना देखते हैं और उसे पूरा करने की सोचते हैं तो यहीं पर रुक जाए, आगे ना पढ़े। क्योंकि इस प्रकार का सपना पूरा होने के बारे में मैं यहां कुछ भी बताने वाला नहीं हूं।

दोस्तों सपने वह हैं जो हम खुली आंखों से देखते हैं। यदि आप एक विद्यार्थी हैं और आप डॉक्टर, इंजीनियर या आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं।  यह आपका एक सपना है।

आप कोई बिजनेसमैन या फैशनन डिज़ाइनर बनना चाहते हैं या किसी भी क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह आपका एक सपना है।  मैं आज इस सपने को पूरा करने के बारे में बताऊंगा।

आपका चाहे कोई भी सपना हो यदि आप उसे पूरा करना चाहते हैं तो नीचे के कुछ उपाय मैं आपको बता रहा हूं जिसका पालन करके आप उसे पूरा कर सकते हैं।

सपने को सच करने के लिए 11 उपाय

मैं आपको कुल 11 उपाय बता रहा हूं। यदि आपने इसका पालन कर लिया तो आपका सपना चाहे कुछ भी हो आप उसे पूरा कर सकते हैं। सपने देखना अच्छी बात है लेकिन उस सपने को साकार ना करना बुरी बात है। इसलिए आप जो भी अपना सपना देख रहे हैं उसे पूरा जरूर करें।

1. लक्ष्य निर्धारित करें

पहले आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर ले। आप अपना एक मंजिल का तलाश करें जहां पर आपको जाना है। कई लोग क्या करते हैं प्रतिदिन अपना लक्ष्य बदलते रहते हैं।

आज उससे पूछो तो बोलेगा मुझे वकील बनना है, कल बोलेगा नहीं नहीं मुझे तो आईएएस ऑफिसर बनना है, परसों बोलेगा नहीं नहीं मुझे तो एक सफल बिजनेसमैन बनना है।

ऐसे लोग कुछ भी नहीं बन पाते हैं। क्योंकि जब तक आप को अपना लक्ष्य पता नहीं है आप रास्ता भटक जाते हैं। एक लक्ष्य का निर्धारित करें। काफी सोच समझकर यह निश्चय करें मुझे यही बनना है या मुझे ही काम करना है।

2. रास्ता निर्धारित करें

अगर आपने अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया तो आप 50% मंजिल प्राप्त कर लिए। अब दूसरा काम यह है कि आप उस लक्ष्य को किस रास्ते से प्राप्त करेंगे वह रास्ता निर्धारित करें।

जैसे मान लीजिए आपको एक सफल वकील बनना है। उसके लिए आपको किस रास्ते पर चलना होगा। आपको एक अच्छे लॉ कॉलेज में एडमिशन लेना होगा। अच्छी तरह कानून की किताब को पढ़ना पड़ेगा। तभी आप एक अच्छा वकील बन सकते हैं।

जैसे मान लेते हैं आपको एक बड़ा इंजीनियर बनना है। उसके लिए आपको 12वीं क्लास में गणित और विज्ञान के साथ पढ़ाई करना पड़ेगा। फिर JEE परीक्षा पास करके आईआईटी में एडमिशन लेना पड़ेगा। फिर आप एक अच्छा इंजीनियर बन सकते हैं।

इसलिए चाहे आपका मंजिल कुछ भी हो आपको रास्ते के बारे में पता होना अत्यंत आवश्यक है। जैसे आपको यदि डॉक्टर बनना है और आपने 12वीं क्लास में इतिहास, भूगोल लेकर पढ़ाई किया।

आपको यह पता ही नहीं कि डॉक्टर बनने के लिए 12वीं क्लास में जीव विज्ञान यह से लेकर पढ़ाई करना पड़ता है तो आप डॉक्टर कैसे बन सकते हो। इसलिए मंजिल को प्राप्त करने के लिए रास्ता की जानकारी होना अति आवश्यक है।

3. समय निर्धारित करें

सपने को सच करने के लिए समय कि अहम भूमिका होती हैं। आपको समय निर्धारित करना पड़ेगा। आपको यह निर्धारित करना पड़ेगा कि आप को कितने समय में अपना लक्ष्य प्राप्त करना हैै।

एक मेरा दोस्त है। उन्होंने चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने का सपना देखा। अच्छी तरह तैयारी किया। बार-बार असफल रहा। लेकिन उन्होंने निर्णय ले लिया था कि जब तक मैं चार्टर्ड अकाउंट बनूंगा नहीं तब तक इसे छोडूंगा नहीं। अंत में चार्टर्ड कंटेंट बन गया।

सपने को सच करने के लिए हमें कई बार असफल भी होना पड़ता है। लेकिन आप  पहले सोच लें मुझे 1 साल 2 साल या 3 साल में सपने पूरे करना है। मैं कितना समय अपने सपने को सच करने के लिए दे सकता हूं।

4. योजना बनाएं

बिना योजना बनाएं हम अपने सपने को सच नहीं कर सकते हैं। सपने को सच करने के लिए एक योजना का होना अति आवश्यक है। क्योंकि योजना के द्वारा ही हमें कब क्या करना है और किस तरह अपना सपने को पूरा करना है, का एक ग्राफ तैयार करना पड़ता है।

आपने जरूर सुना होगा कि शिवाजी मुट्ठी भर सेना के द्वारा  औरंगजेब के विशाल सैनिकों को हरा देता था। क्योंकि उनकी योजना बेमिसाल थी। वह अपनी योजना द्वारा ही युद्ध करते थे और उसमें जीत जाते थे।

एक योजना द्वारा ही हम कम समय में अधिक सफलता प्राप्त कर सकते हैं। एक गृहिणी योजना बना कर कम पैसे में अच्छी तरह घर चला लेते हैं। एक सरकार योजना बना करें कम पैसे में देश के विकास कर सकता है।

5. अपने क्षेत्र के प्रमुख लोगों का सुझाव लें

आप चाहे जिस क्षेत्र में जाना चाहते हो उस क्षेत्र के प्रमुख लोगों का सुझाव जरूर लें। यदि आप आईएएस अधिकारी बनना चाहते हो तो जो भी आईएएस अधिकारी पहले बन चुके हैं उनसे मिले। उनके द्वारा लिखे किताब या उनकी जीवनी पढ़ें।

यदि आप बिजनेसमैन बनना चाहते हो तो जिस क्षेत्र में आप अपना व्यापार बनाना चाहते हैं उस क्षेत्र के बड़े बिजनेस मेंन से मिलो, चर्चा करें। आपके लिए लाभदायक रहेगा।

लेकिन ध्यान रहे जिस क्षेत्र में जाना चाहते हो उसी क्षेत्र के लोगों से मिले। यह नहीं कि आप सोने का दुकान खोलना चाहते हैं और किसी किराणें दुकानदार से सलाह मांग रहे हो। यह आपके लिए घातक साबित हो सकता है।

6. हमेशा सकारात्मक सोचें

मैं अक्सर मोटिवेशनल स्टोरी (Motivational Story) लिखता रहता हूं। इसे जरूर पढ़ें। अपने आप को हमेशा उत्साही और जोशीला बनाए रखें।

कभी भी अपने दिमाग में नकारात्मक विचार ना लाएं। कहा गया है आशा जीवन है और निराशा मौत। इसलिए आशा का दामन कभी भी ना छोड़े। हमेशा यह सोचे कि जब वह व्यक्ति यह काम कर सकता है तो हम यह काम क्यों नहीं कर सकता हैं।

जो काम पहले किसी व्यक्ति द्वारा किया जा चुका है वह काम असंभव नहीं होता। इस दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है। असंभव शब्द को अपने डिक्शनरी से बाहर निकाल दो।

7. असफलता के लिए तैयार रहें

हमेशा अपने आप को सफलता के लिए तैयार रखें। चाहे कितना भी बड़े आदमी हो वह कई बार असफल होकर ही महान बनता है। कोई एक बार में महान नहीं बनता है।

अब्राहम लिंकन जो एक मजदूर से अमेरिका का राष्ट्रपति बना। जिंदगी में कई बार असफल रहे फिर जाकर वह अमेरिका का राष्ट्रपति बन सका।

अमिताभ बच्चन जो आज सदी का महानायक बना है। उनकी जीवनी आप जरूर पढ़े होंगे। एक नहीं लगातार अनेक फिल्में फ्लॉप हुआ लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। फिर आज वह महानायक बने हैंं।

अक्षय कुमार जो आज का सुपरस्टार है। ना जाने बचपन में उनको कितना दुख झेलना पड़ा। एक छोटे से होटल में काम करते थे और आज एक प्रसिद्ध फिल्म स्टार है।

जब इतने बड़े बड़े महान लोग अपने जीवन में इतनी  असफलता झेलां है तो फिर हम और आप क्यों नहीं  असफलता को झेल सकते हैं।

8. Overthinking नहीं करें

अच्छी-अच्छी लोग ओवरथिंकिंग की वजह से अपना जीवन बर्बाद कर देते हैं। इसलिए कभी भी ओवरथिंकिंग ना करें। ज्यादा सोचने से हम अपनी उर्जा को खो देते हैं और बिना उर्जा हम कोई भी बड़ा काम नहीं कर सकते हैं।

यह एक प्रकार का मानसिक बीमारी है जो एक बार यदि हमें लग जाती है तो फिर यह हमें आगे बढ़ने नहीं देती है। हम सोच सोच कर ख्याली पुलाव में चले जाते हैं। नकारात्मक सोच के कारण हम मानसिक रूप से बीमार हो जाता है। इसलिए ओवरथिंकिंग से दूर है।

9. मन को शांत रखें

कहा गया है

स्पीड ब्रेकर कितना भी बड़ा हो

गति धीमा करने से झटका नहीं लगता

उसी तरह मुसीबत कितना भी बड़ा हो

मन को शांत रखने से जीवन में झटके नहीं लगते 

मैं पहले भी बता चुका हूं कि मन को शांत करने के क्या-क्या तरीके हैं। उस तरीके को जरूर पालन करें।

दोस्तों, चाहे आपके सपने छोटा हो या बड़ा हो उसे आप प्राप्त कर सकते हो। मन बहुत चंचल होता है। जब तक आपका मन चंचल रहेगा आप कोई भी सपने पूरे नहीं कर सकते हैं। इसलिए मन को शांत रखना बहुत आवश्यक है।

10. अपने अंदर के टैलेंट (Talent) को पहचाने

आपको यह बात स्वीकार करनी पड़ेगी सभी काम सभी व्यक्ति नहीं कर सकता है। यह एक कड़वा सत्य है। आपके अंदर जो टैलेंट है उसे अपने सपने को सच करने में लगा दें।

हर व्यक्ति में कोई ना कोई गुण जरूर होता है। जरूरत है तो उस गुण को पहचानने में उसे और विकसित करने में। आपके अंदर एक अच्छे क्रिकेटर के सभी गुण मौजूद हैं और आपका सपना भी एक क्रिकेटर बनना है। इस प्रकार आप के गुण और आपके सपने  मिल जाए तो वह जल्दी सच हो जाते हैं।

जैसे मान लेते हैं आपको तेरना नहीं आता। आपको पानी या नदी देख कर ही डर लगता और आपका सपना एक अच्छा तैराक बनना है तो यह थोड़ा मुश्किल हो सकता है।

11. कभी भी हार नहीं माने

हमें कभी भी हार नहीं मानना चाहिए। एक बार नहीं तो दूसरा बार, दूसरी बार नहीं तो तीसरे बार, तीसरे बार नहीं तो चौथे बार प्रयास करना चाहिए। हमेंं तब तक प्रयास करना चाहिए जब तक सपने सच ना हो जाए।

कई बार जब सफलता हमसे दो कदम दूरी पर आता है तब हम हार मान कर पीछे मुड़ जाते हैं। आपने एक सोने व्यापारी की कहानी जरूर पढ़ें होंगे। उन्होंने एक खान खरीदा। 1 साल तक इसमें खुदाई किया। जब सोना 2 फुट नीचे रह गया तब उन्होंने हार मानकर उस खान को बेच दिया।

दूसरे व्यापारी ने उस खान को  सिर्फ दो फीट खुदाई कि और सोने का खजाना मिला। यह सुनकर पहले वाला व्यापारी पागल हो गया और मर गए।

संक्षेप में

मेरे वेबसाइट करना स्टेशन गुरुजी हैं। आप गूगल पर जाकर स्टेशन गुरुजी लिखे या बोल दे आपको सभी समस्या का समाधान मिल जाएगा।

फिर भी आपको कोई दिक्कत है तो मुझे आप ईमेल भेज सकते हैं। मैं पढ़ाई लिखाई, मोटिवेशनल कहानी, वित्तीय जानकारी  इत्यादि विषय पर निष्पक्ष रुप से ज्ञानवर्धक लेख लिखता रहता हूं। जो आपके लिए उपयोगी हो सकते हैं।

उम्मीद जिंदा रखिए साहब

आज हंसने वाले कल तालियां भी  बजाएंगे

इसलिए आपको कभी भी हार नहीं मानना चाहिए।

धन्यवाद।

Author

  • Madan Jha

    Hello friends, मेरा नाम मदन झा है। मैं LNMU Darbhanga से B.Com (Hons) एवं कोटा विश्वविद्यालय राजस्थान से M.Com हूं। मेरे इस वेबसाइट का नाम स्टेशन गुरुजी www.stationguruji.com हैं। मैं रेलवे विभागीय परीक्षा (Railway LDCE Exam), बच्चों के पढ़ाई लिखाई, नौजवानों के लिए मोटिवेशनल कहानी एवं निवेश, स्टॉक मार्केट संबंधी वित्तीय एवं ज्ञानवर्धक जानकारी शेयर करता रहता हूं।( नोट - उपर में Download बटन लगा है। Download करने के लिए पेज़ पर सबसे नीचे View Non-AMP version पर क्लिक करें। फिर नए पेज़ पर Download बटन पर क्लिक करके इसे Download कर सकते हैं।)

Leave a Comment